Connect with us

Crime

कोटा की मॉडल का शव बैग में मिला, मुंबई में दोस्त अरेस्ट

Published

on

मॉडल मानसी दीक्षित की लाश एक बैग में मिली। मॉडल राजस्थान के कोटा की रहने वाली थी। मुंबई पुलिस ने इस मामले में उसके एक दोस्त को गिरफ्तार किया है।

मुंबई में मलाड़ इलाके में मॉडल मानसी दीक्षित की लाश मिली है। मानसी राजस्थान के कोटा शहर की रहने वाली  थी। वह मुंबई में मॉडलिंग कर रही थी। मानसी का शव मिलने की खबर के बाद कोटा से परिजन मुंबई के लिए रवाना हो गए हैं।

जानकारी के अनुसार, मानसी का शव सोमवार को एक ट्रेवल बैग में पड़ा​ मिला था। उसके बाद मुंबई पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो उसमे एक व्यक्ति यह बैग झाड़ियों में फेंकता नजर आया। पुलिस ने कैब ड्राइवर और उन्य लोगों से पूछताछ के आधार पर बैग फेंकने वाले व्यक्ति की पहचान कर ली और उसे गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी का नाम मुजम्मल सईद है। मानसी उसकी दोस्त थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पूछताछ में सामने आया है कि दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था। गुस्से में आकर सईद ने टेबल मानसी के सिर पर दे मारी। इससे उसकी मौत हो गई।

टीवी सीरियल भी कर चुकी थी मानसी

मानसी मूलत: कोटा के स्टेशन क्षेत्र की रहने वाली है। जो पिछले 6-7 माह से मुंबई में मॉडलिंग कर रही थीं। इसके साथ मानसी टीवी सीरियल में भी नजर आ चुकी थीं। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Alwar

पहलू खां मामला :फायरिंग के नहीं मिले सबूत, पुलिस लगा रही है ये ‘अंदाजा’

Published

on

पहलू खां मामले में गवाही देने जा रहे उसके बेटों और गवाहों पर फायरिंग के सबूत पुलिस को नहीं मिले है। पुलिस ने नेशनल हाइवे आठ पर लगे कैमरों के फुटेजों की जांच कर रही है।

कथित गोरक्षकों की पिटाई में मारे गए पहलू खां के बेटों और गवाहों ने शिकायत दी थी कि उन पर फायरिंग हुई है। पुलिस ने इस शिकायत को गंभीरता से ली और दो दिन से मामले की पड़ताल में जुटी है। पुलिस ने नेशनल हाइवे आठ पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज भी देखे। इनमें बोलेरो गाड़ी नजर आ रही है। इसमें पहलू के बेटे इरशाद, आरिफ व गवाह अजमत, रफीक, सामाजिक कार्यकर्ता व वकील असद हयात तथा बोलेरो चालक अमजद सवार हैं।

मौके पर छर्रें या गोली के सबूत भी नहीं मिले। जिस काले रंग की स्कॉर्पियो की बात बताई है वह कहीं दिखाई नहीं दी है। शनिवार को परिजनों व गवाहों ने काले रंग की स्कॉर्पियों में बैठे बदमाशों द्वारा गाली देने तथा फायरिंग का आरोप लगाया था। नीमराना थाने में इरशाद की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई थी। रिपोर्ट में बहरोड़ कोर्ट में होने वाली गवाही से रोकने के लिए फायरिंग का आरोप लगाया गया था। रिपोर्ट में कहा गया कि काले रंग की बिना नंबर की स्कॉर्पियो गाड़ी ने बोलेरो को ओवरटेक किया। गाड़ी नहीं रोकने पर पिछली सीट पर बैठे एक व्यक्ति ने फायरिंग की।

डेढ़ साल पहले हुई थी पहलू खां की मौत

उल्लेखनीय है कि पहलू खां हरियाणा के नूंह जिले के जयसिंहपुर गांव का रहने वाला था। बहरोड़ में 1 अप्रैल 2017 को तथाकथित गोरक्षाें ने पहलू खां की पिटाई की थी। इसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। बाद में 4 अप्रैल को उसने बहरोड़ में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था।

शिकायत पर सवाल

पुलिस अब पहलू खां के परिजनों की शिकायत पर सवाल उठा रही है। माना जा रहा है कि पुलिस पर दबाव बनाने और इस केस को बहरोड़ से ट्रांसफर करवाने के लिए ये कहानी रची गई है।

Continue Reading

Crime

आसाराम की सहयोगी शिल्पी को जमानत, 20 साल की सजा स्थगित

Published

on

नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीड़न के मामले में फंसे आसाराम की सहयोगी संचिता उर्फ शिल्पी को राजस्थान हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली। अदालत ने शिल्पी को सुनाई गई 20 साल की सजा स्थगित कर दी।

शिल्पी अभी जोधपुर जेल में है। सजा स्थगित होने से अब शिल्पी जेल से बाहर आ जाएगी। जानकारी के अनुसार, आसाराम प्रकरण में सह आरोपी शिल्पी व शरद को दोषी करार देते हुए ट्रायल कोर्ट ने इसी साल 25 अप्रैल को बीस-बीस वर्ष के कारावास की सजा सुनाई थी। वहीं, आसाराम को ताउम्र जेल में रहने की सजा सुनाई गई थी।

शिल्पी ने इसके खिलाफ राजस्थान हाईकोर्ट में अपील की थी। न्यायाधीश विजय विश्नोई की अदालत में दो दिन पूर्व सभी पक्षों की बहस पूरी हो चुकी थी। अदालत ने आज अपना फैसला सुनाते हुए शिल्पी को सुनाई गई 20 साल की सजा को स्थगित कर दी। इस सजा को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई अभी शुरू नहीं हो पाई है।

उल्लेखनीय है कि आसाराम के गुरुकुल में पढ़ने वाली एक नाबालिग छात्रा ने आसाराम पर पंद्रह अगस्त 2013 को जोधपुर के निकट एक फार्म हाउस पर अपना यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। साढ़े चार तक चली सुनवाई के पश्चात कोर्ट ने आसाराम को दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

Continue Reading

Alwar

पहलू खां मामले में गवाही के लिए जा रहे युवकों पर फायरिंग

Published

on

अलवर के चर्चित पहलू खां हत्याकांड मामले में गवाही देने आ रहे युवकों पर फायरिंग की सूचना है। इस संबंध में एक गवाह ने एसपी को शिकायत दी है।

घटना शनिवार की बताई जा रही है। अलवर एसीपी को दी गई शिकायत में इरशाद ने बताया कि वे गवाही के लिए अलवर जा रहे थे। इस दौरान सुबह करीब 9 बजे एनएच 8 पर बहरोड़ के पास एक गाड़ी ने ओवरटेक किया और रुकने के लिए कहा।

गाड़ी न रोकने में दूसरी गाड़ी में सवार युवक ने फायर कर दिया। जिसके बाद वे गाड़ी दौड़ा के बहरोड़ की तरफ चले गए। वहीं इरशाद साथी गवाहों के साथ अलवर वापस आ गया। ये सभी लोग गवाही देने बहरोड़ कोर्ट जा रहे थे। पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की गहनता से जांच की जाएगी। साथ ही हाइवे पर लगे सीसीटीवी कैमरे भी चैक किए जाएंगे।

नेशलन हाइवे पर गोतस्करी के शक में 3 अप्रैल को वाहन चालक पहलू खां को गोरक्षकों ने कथित रुप से पीट-पीटकर घायल कर दिया था। दो दिन बाद उसकी अस्पताल में मौत हो गई थी।

Continue Reading
Advertisement

Facebook

Trending